देवदारु तेल (Devadaru tel in Hindi)

ਪੰਜਾਬੀ Eng हिंदी বাংলা

देवदारु तेल (Devadaru tel in Hindi) का क्या उपयोग है?

देवदारु एक भारतीय पेड़ है जो हिमालय में बढ़ता है। पेड़ की छाल से तेल निकाला जाता है। आयुर्वेद में इसकी एक बहुत ही महत्वपूर्ण जगह है और इसका उपयोग कई समस्याओं के लिए किया जाता है:

  • उपद्रव घावों को साफ करता है।
  • खांसी, अस्थमा, तंत्रिका संबंधी स्थितियों, रक्तस्राव विकार, मोटापा, संवहनी स्थितियों, मूत्र पथ संक्रमण, और साइनसिसिटिस का इलाज करता है।
  • राहत अपचन, हिचकी, कब्ज, सूजन, गैस, पेट का विकृति, शुद्धता (अत्यधिक खुजली), सूजन, एडीमा (हाथों और पैरों की सूजन), नाक, दर्द, रूमेटोइड गठिया रोगियों, गर्भाशय ग्रीवा स्पोंडिलिटिस में कठोरता चलाना।

देवदारु तेल (Devadaru tel in Hindi) के दुष्प्रभाव क्या हैं?

कोई नहीं।

देवदारु तेल (Devadaru tel in Hindi) के मतभेद क्या हैं?

कोई नहीं।

देवदारु तेल (Devadaru tel in Hindi) का क्या उपयोग है?

देवदारु एक भारतीय पेड़ है जो हिमालय में बढ़ता है। पेड़ की छाल से तेल निकाला जाता है। आयुर्वेद में इसकी एक बहुत ही महत्वपूर्ण जगह है और इसका उपयोग कई समस्याओं के लिए किया जाता है:

  • उपद्रव घावों को साफ करता है।
  • खांसी, अस्थमा, तंत्रिका संबंधी स्थितियों, रक्तस्राव विकार, मोटापा, संवहनी स्थितियों, मूत्र पथ संक्रमण, और साइनसिसिटिस का इलाज करता है।
  • राहत अपचन, हिचकी, कब्ज, सूजन, गैस, पेट का विकृति, शुद्धता (अत्यधिक खुजली), सूजन, एडीमा (हाथों और पैरों की सूजन), नाक, दर्द, रूमेटोइड गठिया रोगियों, गर्भाशय ग्रीवा स्पोंडिलिटिस में कठोरता चलाना।

देवदारु तेल (Devadaru tel in Hindi) के दुष्प्रभाव क्या हैं?

कोई नहीं।

देवदारु तेल (Devadaru tel in Hindi) के मतभेद क्या हैं?

कोई नहीं।