इन्द्रयावा (Indrayava in Hindi)

ਪੰਜਾਬੀ Eng हिंदी বাংলা

इन्द्रयावा (Indrayava in Hindi) का क्या उपयोग है?

इन्द्रयावा एक औषधीय जड़ी बूटी है जिसका व्यापक रूप से आयुर्वेद में उपयोग किया जाता है। इसे कुट्टा के नाम से भी जाना जाता है। यह:

  • दस्त, चिड़चिड़ा आंत्र सिंड्रोम, रक्तस्राव रक्तस्राव, बुखार, गठिया (यूरिक एसिड का दोषपूर्ण चयापचय), हर्पस (हर्पीस वायरस संक्रमण जो त्वचा या तंत्रिका तंत्र को प्रभावित करता है), त्वचा विकार, उल्टी, अल्सरेटिव कोलाइटिस, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल विकार, प्रोटोज़ोन संक्रमण, मलेरिया, अस्थमा, मतली, उल्टी, पेट दर्द, ल्यूकोर्यिया (योनि से श्लेष्म या पीले रंग का निर्वहन)
  • शरीर, स्तन दूध का विषहरण
  • पाचन में सुधार करता है
  • प्यास, आंतों कीड़ा उपद्रव से राहत दिलाता है
  • रक्त शुद्ध करता है

इन्द्रयावा (Indrayava in Hindi) के दुष्प्रभाव क्या हैं?

इन्द्रयावा आमतौर पर सुरक्षित होता है, लेकिन कुछ मामलों में मतली और उल्टी जैसे दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

  • यदि लक्षण लगातार हैं तो कृपया एक चिकित्सक से परामर्श लें।

इन्द्रयावा (Indrayava in Hindi) के मतभेद क्या हैं?

कोई नहीं 

इन्द्रयावा (Indrayava in Hindi) का क्या उपयोग है?

इन्द्रयावा एक औषधीय जड़ी बूटी है जिसका व्यापक रूप से आयुर्वेद में उपयोग किया जाता है। इसे कुट्टा के नाम से भी जाना जाता है। यह:

  • दस्त, चिड़चिड़ा आंत्र सिंड्रोम, रक्तस्राव रक्तस्राव, बुखार, गठिया (यूरिक एसिड का दोषपूर्ण चयापचय), हर्पस (हर्पीस वायरस संक्रमण जो त्वचा या तंत्रिका तंत्र को प्रभावित करता है), त्वचा विकार, उल्टी, अल्सरेटिव कोलाइटिस, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल विकार, प्रोटोज़ोन संक्रमण, मलेरिया, अस्थमा, मतली, उल्टी, पेट दर्द, ल्यूकोर्यिया (योनि से श्लेष्म या पीले रंग का निर्वहन)
  • शरीर, स्तन दूध का विषहरण
  • पाचन में सुधार करता है
  • प्यास, आंतों कीड़ा उपद्रव से राहत दिलाता है
  • रक्त शुद्ध करता है

इन्द्रयावा (Indrayava in Hindi) के दुष्प्रभाव क्या हैं?

इन्द्रयावा आमतौर पर सुरक्षित होता है, लेकिन कुछ मामलों में मतली और उल्टी जैसे दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

  • यदि लक्षण लगातार हैं तो कृपया एक चिकित्सक से परामर्श लें।

इन्द्रयावा (Indrayava in Hindi) के मतभेद क्या हैं?

कोई नहीं