मेटफॉरमिन (Metformin in Hindi)

ਪੰਜਾਬੀ Eng हिंदी বাংলা

मेटफॉरमिन (Metformin in Hindi) का क्या उपयोग है?

  • मधुमेह टाइप 2  
  • पॉलीसिस्टिक अंडाशय सिंड्रोम

मेटफोर्मिन टाइप 2 मधुमेह के इलाज के लिए प्रयोग किया जाता है। मेटफोर्मिन इंसुलिन को स्वाभाविक रूप से पैदा करता है। शरीर की उचित प्रतिक्रिया बहाल करने में मदद करके काम करता है। यह चीनी की मात्रा भी कम करता है जो कि  व्यक्ति के जिगर में जाती है और इस से आंतों को कम मात्रा में चीनी को अवशोषित करना पड़ता है ।

यह भी पॉलीसिस्टिक अंडाशय सिंड्रोम के उपचार में प्रयोग किया जाता है। मेटफोर्मिन प्रजनन क्षमता बढ़ाने के लिए और मासिक धर्म चक्र अधिक नियमित रूप से कर सकते हैं।

मेटफॉरमिन (Metformin in Hindi) के दुष्प्रभाव क्या हैं?

बहुत से लोगों में  मेटफार्मिन के ज्यादा दुष्प्रभाव नहीं है। प्रारंभिक दुष्प्रभाव कुछ समय के बाद कम हो जाते है । हालांकि आप सूचित करे अपने डॉक्टर को यदि निम्न लक्षण जारी रहते है :

  • मतली उल्टी
  • पेट खराब, दस्त
  • दुर्बलता
  • मुंह में एक धात्विक स्वाद
  • लैक्टिक अम्लरक्तता (शरीर में लैक्टिक एसिड का बहुत अधिक संचय)। लैक्टिक अम्लरक्तता घातक हो सकती है अगर समय पर इलाज नहीं।

मेटफॉरमिन (Metformin in Hindi) के मतभेद क्या हैं?

अपने चिकित्सक को बताए अगर आप को निम्न में से कुछ भी है :

  • मेटफार्मिन से एलर्जी।
  • किसी भी अन्य एलर्जी
  • ऑब्सट्रक्टिव फेफड़ों के रोग, गंभीर अस्थमा, एनीमिया की तरह रक्त की समस्याओं, विटामिन बी 12 की कमी, यकृत रोग, गुर्दे की बीमारी की तरह गंभीर सांस लेने की समस्याओं।
  • असामान्य क्रिएटिनिन निकासी या ऊंचा सीरम क्रिएटिनिन का स्तर, हृदय pharmacologic उपचार की आवश्यकता विफलता के साथ गुर्दे हानि।
  • 80 साल से ज्यादा उम्र।
  • किसी भी जिगर की बीमारी।

मेटफॉरमिन (Metformin in Hindi) का क्या उपयोग है?

  • मधुमेह टाइप 2  
  • पॉलीसिस्टिक अंडाशय सिंड्रोम

मेटफोर्मिन टाइप 2 मधुमेह के इलाज के लिए प्रयोग किया जाता है। मेटफोर्मिन इंसुलिन को स्वाभाविक रूप से पैदा करता है। शरीर की उचित प्रतिक्रिया बहाल करने में मदद करके काम करता है। यह चीनी की मात्रा भी कम करता है जो कि  व्यक्ति के जिगर में जाती है और इस से आंतों को कम मात्रा में चीनी को अवशोषित करना पड़ता है ।

यह भी पॉलीसिस्टिक अंडाशय सिंड्रोम के उपचार में प्रयोग किया जाता है। मेटफोर्मिन प्रजनन क्षमता बढ़ाने के लिए और मासिक धर्म चक्र अधिक नियमित रूप से कर सकते हैं।

मेटफॉरमिन (Metformin in Hindi) के दुष्प्रभाव क्या हैं?

बहुत से लोगों में  मेटफार्मिन के ज्यादा दुष्प्रभाव नहीं है। प्रारंभिक दुष्प्रभाव कुछ समय के बाद कम हो जाते है । हालांकि आप सूचित करे अपने डॉक्टर को यदि निम्न लक्षण जारी रहते है :

  • मतली उल्टी
  • पेट खराब, दस्त
  • दुर्बलता
  • मुंह में एक धात्विक स्वाद
  • लैक्टिक अम्लरक्तता (शरीर में लैक्टिक एसिड का बहुत अधिक संचय)। लैक्टिक अम्लरक्तता घातक हो सकती है अगर समय पर इलाज नहीं।

मेटफॉरमिन (Metformin in Hindi) के मतभेद क्या हैं?

अपने चिकित्सक को बताए अगर आप को निम्न में से कुछ भी है :

  • मेटफार्मिन से एलर्जी।
  • किसी भी अन्य एलर्जी
  • ऑब्सट्रक्टिव फेफड़ों के रोग, गंभीर अस्थमा, एनीमिया की तरह रक्त की समस्याओं, विटामिन बी 12 की कमी, यकृत रोग, गुर्दे की बीमारी की तरह गंभीर सांस लेने की समस्याओं।
  • असामान्य क्रिएटिनिन निकासी या ऊंचा सीरम क्रिएटिनिन का स्तर, हृदय pharmacologic उपचार की आवश्यकता विफलता के साथ गुर्दे हानि।
  • 80 साल से ज्यादा उम्र।
  • किसी भी जिगर की बीमारी।