रेपाग्लाइनाइड (Repaglinide in Hindi)

ਪੰਜਾਬੀ Eng हिंदी বাংলা

रेपाग्लाइनाइड (Repaglinide in Hindi) का क्या उपयोग है?

रेपाग्लाइनाइड का उपयोग उच्च रक्त शर्करा के स्तर (टाइप 2 मधुमेह) को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है जो मधुमेह के कारण शरीर के महत्वपूर्ण अंगों को नुकसान पहुंचाता है।

रेपाग्लाइनाइड (Repaglinide in Hindi) के दुष्प्रभाव क्या हैं?

रेपाग्लाइनाइड के आम साइड इफेक्ट्स हैं:

  • जोड़ों का दर्द
  • दस्त
  • वजन बढ़ाना

कभी-कभी गंभीर (लेकिन कम आम) दुष्प्रभाव होते हैं:

  • हाइपोग्लाइसीमिया (रक्त में ग्लूकोज के निम्न स्तर)
  • चक्कर आना
  • दुर्बलता
  • बेहोशी
  • तेज दिल की धड़कन

यदि लक्षण लगातार होते हैं तो कृपया डॉक्टर से परामर्श लें।

रेपाग्लाइनाइड (Repaglinide in Hindi) के मतभेद क्या हैं?

यदि आपको निम्न स्थितियों में से कोई है तो कृपया अपने डॉक्टर को सूचित करें:

  • दवा रेपाग्लाइनाइड या किसी भी अन्य एलर्जी की ओर अतिसंवेदनशीलता।
  • गुर्दे की समस्याएं
  • जिगर की समस्याएं

रेपाग्लाइनाइड (Repaglinide in Hindi) का क्या उपयोग है?

रेपाग्लाइनाइड का उपयोग उच्च रक्त शर्करा के स्तर (टाइप 2 मधुमेह) को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है जो मधुमेह के कारण शरीर के महत्वपूर्ण अंगों को नुकसान पहुंचाता है।

रेपाग्लाइनाइड (Repaglinide in Hindi) के दुष्प्रभाव क्या हैं?

रेपाग्लाइनाइड के आम साइड इफेक्ट्स हैं:

  • जोड़ों का दर्द
  • दस्त
  • वजन बढ़ाना

कभी-कभी गंभीर (लेकिन कम आम) दुष्प्रभाव होते हैं:

  • हाइपोग्लाइसीमिया (रक्त में ग्लूकोज के निम्न स्तर)
  • चक्कर आना
  • दुर्बलता
  • बेहोशी
  • तेज दिल की धड़कन

यदि लक्षण लगातार होते हैं तो कृपया डॉक्टर से परामर्श लें।

रेपाग्लाइनाइड (Repaglinide in Hindi) के मतभेद क्या हैं?

यदि आपको निम्न स्थितियों में से कोई है तो कृपया अपने डॉक्टर को सूचित करें:

  • दवा रेपाग्लाइनाइड या किसी भी अन्य एलर्जी की ओर अतिसंवेदनशीलता।
  • गुर्दे की समस्याएं
  • जिगर की समस्याएं