सॉल्मीटर्रोल (Salmeterol in Hindi)

ਪੰਜਾਬੀ Eng हिंदी বাংলা

सॉल्मीटर्रोल (Salmeterol in Hindi) का क्या उपयोग है?

सॉल्मीटर्रोल, एक लॉन्ग एक्टिंग बीटा 2 एड्रेरेनर्जिक रिसेप्टर अगोनिस्ट है जो , निम्नलिखित शर्तों के इलाज में प्रयोग किया जाता है:

  • अस्थमा का नियंत्रण और रोकथाम
  • ब्रोंको स्पस्म (घरघराहट, खांसी, सांस की तकलीफ)
  • क्रोनिक अवरोधक फुफ्फुसीय रोग (सीओपीडी)

सॉल्मीटर्रोल (Salmeterol in Hindi) के दुष्प्रभाव क्या हैं?

ज्यादातर मामलों में, यह दवा किसी भी दुष्प्रभाव का कारण नहीं बनती है।

कुछ रोगियों में निम्न  अनुभव हो सकता है:

  • माइग्रेन
  • चक्कर आना
  • साइनस संक्रमण
  • सूखा मुंह / गले
  • पेट खराब
  • घबराहट

कुछ गंभीर (लेकिन दुर्लभ) साइड इफेक्ट्स निम्न हैं:

  • उच्च रक्त चाप
  • तेज दिल की दर
  • श्वास की समस्याओं को बिगड़ना

यदि लक्षण लगातार उत्पन होते हैं तो कृपया एक चिकित्सक से परामर्श लें।

सॉल्मीटर्रोल (Salmeterol in Hindi) के मतभेद क्या हैं?

यदि आपको  निम्न स्थितियों में से कोई है तो कृपया अपने डॉक्टर को सूचित करें:

  • दवा सॉल्मीटर्रोल या किसी अन्य एलर्जी की ओर अति संवेदनशीलता
  • दिल की समस्याएं (अनियमित दिल की धड़कन, एंजिना)
  • मधुमेह
  • बरामदगी
  • जिगर की समस्याएं
  • थायरॉयड समस्याए

सॉल्मीटर्रोल (Salmeterol in Hindi) का क्या उपयोग है?

सॉल्मीटर्रोल, एक लॉन्ग एक्टिंग बीटा 2 एड्रेरेनर्जिक रिसेप्टर अगोनिस्ट है जो , निम्नलिखित शर्तों के इलाज में प्रयोग किया जाता है:

  • अस्थमा का नियंत्रण और रोकथाम
  • ब्रोंको स्पस्म (घरघराहट, खांसी, सांस की तकलीफ)
  • क्रोनिक अवरोधक फुफ्फुसीय रोग (सीओपीडी)

सॉल्मीटर्रोल (Salmeterol in Hindi) के दुष्प्रभाव क्या हैं?

ज्यादातर मामलों में, यह दवा किसी भी दुष्प्रभाव का कारण नहीं बनती है।

कुछ रोगियों में निम्न  अनुभव हो सकता है:

  • माइग्रेन
  • चक्कर आना
  • साइनस संक्रमण
  • सूखा मुंह / गले
  • पेट खराब
  • घबराहट

कुछ गंभीर (लेकिन दुर्लभ) साइड इफेक्ट्स निम्न हैं:

  • उच्च रक्त चाप
  • तेज दिल की दर
  • श्वास की समस्याओं को बिगड़ना

यदि लक्षण लगातार उत्पन होते हैं तो कृपया एक चिकित्सक से परामर्श लें।

सॉल्मीटर्रोल (Salmeterol in Hindi) के मतभेद क्या हैं?

यदि आपको  निम्न स्थितियों में से कोई है तो कृपया अपने डॉक्टर को सूचित करें:

  • दवा सॉल्मीटर्रोल या किसी अन्य एलर्जी की ओर अति संवेदनशीलता
  • दिल की समस्याएं (अनियमित दिल की धड़कन, एंजिना)
  • मधुमेह
  • बरामदगी
  • जिगर की समस्याएं
  • थायरॉयड समस्याए