टोपोटेकेन (Topotecan in Hindi)

ਪੰਜਾਬੀ Eng हिंदी বাংলা

टोपोटेकेन (Topotecan in Hindi) का क्या उपयोग है?

टोपोटेकेन मुख्य रूप से विभिन्न प्रकार के कैंसर के रसायन चिकित्सा में इस्तेमाल किया जाता है । यह डिम्बग्रंथि के कैंसर, फेफड़ों के कैंसर और अन्य कैंसर के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है, जो अन्य कैंसर विरोधी दवाओं के साथ अच्छी तरह से प्रतिक्रिया नहीं दे पाते है। यह कुछ प्रकार के गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर जिनका सर्जरी या विकिरण चिकित्सा द्वारा इलाज नहीं किया जा सकता है उनके इलाज के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

यह आमतौर पर मौखिक खुराक के रूप में लिया जाता है।

टोपोटेकेन (Topotecan in Hindi) के दुष्प्रभाव क्या हैं?

नींम दुष्प्रभाव आम तौर पर देखे जाते है:

खालित्य (शरीर के बालों की हानि), पेट दर्द, कब्ज, उल्टी, दस्त, सांस लेने में कठिनाई, थकान, बुखार, ठंड लगना, खांसी, गले में खराश, सिर दर्द, क्षाररागीश्वेतकोशिकाल्पता (रक्त में सफ़ेद रक्त कोशिकाओं में कमी), मतली, स्टोमातितिस (मुंह की सूजन ) और मसूड़ों से रक्तस्राव, थ्रोम्बोसाइटोपेनिया (रक्त में प्लेटलेट्स की कमी), आहार (भोजन के लिए भूख न लगना), काला मल, दर्दनाक पेशाब, पीली त्वचा, त्वचा पर लाल धब्बे और असामान्य खून बहना।

टोपोटेकेन (Topotecan in Hindi) के मतभेद क्या हैं?

टोपोटेकेन के गर्भावस्था, अस्थि मज्जा दमन, फेफड़ों में फाइब्रोसिस, गुर्दे की हानि, गैस्ट्रिक या कोई  भी अन्य प्रकार का अल्सर , रक्त और गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर , सफ़ेद रक्त कोशिकाओं की गिनती में  कमी जैसे स्तिथियों में विपरीत प्रभाव हैं 

टोपोटेकेन (Topotecan in Hindi) का क्या उपयोग है?

टोपोटेकेन मुख्य रूप से विभिन्न प्रकार के कैंसर के रसायन चिकित्सा में इस्तेमाल किया जाता है । यह डिम्बग्रंथि के कैंसर, फेफड़ों के कैंसर और अन्य कैंसर के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है, जो अन्य कैंसर विरोधी दवाओं के साथ अच्छी तरह से प्रतिक्रिया नहीं दे पाते है। यह कुछ प्रकार के गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर जिनका सर्जरी या विकिरण चिकित्सा द्वारा इलाज नहीं किया जा सकता है उनके इलाज के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

यह आमतौर पर मौखिक खुराक के रूप में लिया जाता है।

टोपोटेकेन (Topotecan in Hindi) के दुष्प्रभाव क्या हैं?

नींम दुष्प्रभाव आम तौर पर देखे जाते है:

खालित्य (शरीर के बालों की हानि), पेट दर्द, कब्ज, उल्टी, दस्त, सांस लेने में कठिनाई, थकान, बुखार, ठंड लगना, खांसी, गले में खराश, सिर दर्द, क्षाररागीश्वेतकोशिकाल्पता (रक्त में सफ़ेद रक्त कोशिकाओं में कमी), मतली, स्टोमातितिस (मुंह की सूजन ) और मसूड़ों से रक्तस्राव, थ्रोम्बोसाइटोपेनिया (रक्त में प्लेटलेट्स की कमी), आहार (भोजन के लिए भूख न लगना), काला मल, दर्दनाक पेशाब, पीली त्वचा, त्वचा पर लाल धब्बे और असामान्य खून बहना।

टोपोटेकेन (Topotecan in Hindi) के मतभेद क्या हैं?

टोपोटेकेन के गर्भावस्था, अस्थि मज्जा दमन, फेफड़ों में फाइब्रोसिस, गुर्दे की हानि, गैस्ट्रिक या कोई  भी अन्य प्रकार का अल्सर , रक्त और गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर , सफ़ेद रक्त कोशिकाओं की गिनती में  कमी जैसे स्तिथियों में विपरीत प्रभाव हैं