टी ट्री आयिल (Tea tree oil in panjabi)

Eng हिंदी বাংলা ਪੰਜਾਬੀ

टी ट्री आयिल (Tea tree oil in panjabi) ਦੀ ਵਰਤੋਂ ਕੀ ਹੈ?

टी ट्री आयिल कई औषधीय मूल्यों के साथ एक प्रसिद्ध भारतीय पौधा है। यह: 

यह मुँहासे, नाखून, एथलीट फुट, खुजली, और अंगूठी कृमि के फंगल संक्रमण को ठीक करता है ।

योनि के जीवाणु संक्रमण, दंत पट्टिका, गम सूजन, बुरा सांस, बवासीर, दर्द, सूजन और खुजली बच्चों में, योनि कैंडिडिआसिस , कान में संक्रमण के लक्षणों को कम कर देता है।

जलने, कटने , कीड़े के काटने, डंक, फोड़े, और खरोंच के मामले में संक्रमण को रोकता है।

गले में ख़राश खांसी, और भीड़ से छुटकारा दिलाता है। 

टी ट्री आयिल (Tea tree oil in panjabi) ਦੇ ਮਾੜੇ ਪ੍ਰਭਾਵ ਕੀ ਹਨ?

टी ट्री आयिल आम तौर पर सुरक्षित है, लेकिन अगर अतिरिक्त में प्रयोग किया जाता है तो निम्न साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

  • त्वचा की जलन
  • सूजन
  • शुष्कता
  • चुभन / जलन / त्वचा की लालिमा

एक चिकित्सक से परामर्श करें यदि लक्षण लगातार उत्पन हो रहे हैं।

टी ट्री आयिल (Tea tree oil in panjabi) ਦੇ ਵਿਚਕਾਰ ਕੀ ਅੰਤਰ ਹਨ?

टी ट्री आयिल के मौखिक सेवन से बचें क्योंकि इस  रूप में यह पीने के लिए जहरीला होता है। 

टी ट्री आयिल (Tea tree oil in panjabi) ਦੀ ਵਰਤੋਂ ਕੀ ਹੈ?

टी ट्री आयिल कई औषधीय मूल्यों के साथ एक प्रसिद्ध भारतीय पौधा है। यह: 

यह मुँहासे, नाखून, एथलीट फुट, खुजली, और अंगूठी कृमि के फंगल संक्रमण को ठीक करता है ।

योनि के जीवाणु संक्रमण, दंत पट्टिका, गम सूजन, बुरा सांस, बवासीर, दर्द, सूजन और खुजली बच्चों में, योनि कैंडिडिआसिस , कान में संक्रमण के लक्षणों को कम कर देता है।

जलने, कटने , कीड़े के काटने, डंक, फोड़े, और खरोंच के मामले में संक्रमण को रोकता है।

गले में ख़राश खांसी, और भीड़ से छुटकारा दिलाता है। 

टी ट्री आयिल (Tea tree oil in panjabi) ਦੇ ਮਾੜੇ ਪ੍ਰਭਾਵ ਕੀ ਹਨ?

टी ट्री आयिल आम तौर पर सुरक्षित है, लेकिन अगर अतिरिक्त में प्रयोग किया जाता है तो निम्न साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

  • त्वचा की जलन
  • सूजन
  • शुष्कता
  • चुभन / जलन / त्वचा की लालिमा

एक चिकित्सक से परामर्श करें यदि लक्षण लगातार उत्पन हो रहे हैं।

टी ट्री आयिल (Tea tree oil in panjabi) ਦੇ ਵਿਚਕਾਰ ਕੀ ਅੰਤਰ ਹਨ?

टी ट्री आयिल के मौखिक सेवन से बचें क्योंकि इस  रूप में यह पीने के लिए जहरीला होता है।